KHUSHIYAN AUR GHAM SONG LYRICS - AAMIR KHAN, MANISHA KOIRALA

Khushiyaan Aur Ghum Sehte Hai
Phir Bhi Ye Chup Rehati Hai,
Abtak Kisi Ne Na Jaana,
Zindagi Kya Kehti Hai… (2)

Apni Khabhi To Khabhi Ajanebi,
Aasoon Khabhi To Khabhi Hai Hasin,
Darr Ya Khabhi To Khabhi Tishnegi Lageti Hai Ye To,

Khushiyaan Aur Ghum Sehte Hai
Phir Bhi Ye Chup Rehati Hai,
Abtak Kisi Ne Na Jaana,
Zindagi Kya Kehti Hai

Khamoshiyon Ki Dheemee Sada Hai,
Ye Zindagi To Rab Ki Duaa Hai,

Chud Ke Kisi Ne Isko Dekha Khabhi Na,
Ehsaas Ki Hai Khushbhoo Mehki Hawa Hai

Khushiyaan Aur Ghum Sehte Hai
Phir Bhi Ye Chup Rehati Hai,
Abtak Kisi Ne Na Jaana,
Zindegi Kya Kehti Hai
Ha Ha Ha Haa Mm Mm Mm Mmm

Mann Se Kahoon Tum,
Mann Ki Suno Tum,
Mann Meet Koi Mann Ka Suno Tum,
Kuch Bhi Kahegi Duniya,
Duniya Ki Chudo

Palko Mein Sajaake Jhilmil,
Sapane Bano Tum

Khushiyaan Aur Ghum Sehte Hai
Phir Bhi Ye Chup Rehati Hai,
Abtak Kisi Ne Na Jaana,
Zindegi Kya Kehti Hai

Apni Khabhi To Khabhi Ajanebi,
Aasoo.n Khabhi To Khabhi Hai Hasi,
Darr Ya Khabhi To Khabhi Tishnegi
Lageti Hai Ye To

Khushiyaan Aur Ghum Sehte Hai,
Phir Bhi Ye Chup Rehati Hai,
Abtak Kisi Ne Na Jaana,
Zindegi Kya Kehti Hai
[खुशियाँ और ग़म सहती हैं
फिर भी ये चुप रहती हैं
अबतक किसी ने ना जाना
ज़िन्दगी क्या कहती है]x २

अपनी कभी तो कभी अजनबी
आसूं कभी तो कभी है हंसी
डर या कभी तो कभी तिश्नगी
लगती है ये तो

खुशियाँ और ग़म सहती हैं
फिर भी ये चुप रहती हैं
अबतक किसी ने ना जाना
ज़िन्दगी क्या कहती है

खामोशियों की धीमी सदा है
ये ज़िन्दगी तो रब की दुआ है

छू के किसी ने इसको देखा कभी ना
एहसास की है खुशबू महकी हवा है
खुशियाँ और ग़म सहती हैं
फिर भी ये चुप रहती है

अबतक किसी ने ना जाना
ज़िन्दगी क्या कहती है
आहा आ हम्म हूं..
मन से कहो तुम, मन की सुनो तुम
मन मीत कोई, मन का चुनो तुम
कुछ भी कहेगी दुनिया, दुनिया की छोडो

पलकों में सजके झिलमिल
सपने बनाओ तुम
खुशियाँ और ग़म सहती हैं
फिर भी ये चुप रहती हैं
अबतक किसी ने ना जाना

ज़िन्दगी क्या कहती है
अपनी कभी तो कभी अजनबी
आसूं कभी तो कभी है हंसी
डर या कभी तो कभी तिश्नगी
लगती है ये तो

खुशियाँ और ग़म सहती है
खुशियाँ और ग़म सहती है
फिर भी ये चुप रहती है
फिर भी ये चुप रहती है

अबतक किसी ने ना जाना
अबतक किसी ने ना जाना
ज़िन्दगी क्या
ज़िन्दगी क्या कहती है

KHUSHIYAN AUR GHAM SONG STATUS

Do you like posting status, with a brilliant word which when people saw they actually get amazed? Of Course, everybody does.

Posting statuses is our daily routine on Social Media now but we got confused as to what kind of statuses we should post.

But, now you need not to get confused. In this article we will gonna tell you the KHUSHIYAN AUR GHAM Song Status which you guys can share on your Social media sites like Facebook, Instagram, Twitter, Whatsapp, Snapchat etc.
Khushiyaan Aur Ghum Sehte Hai
Phir Bhi Ye Chup Rehati Hai,
Abtak Kisi Ne Na Jaana,
Zindegi Kya Kehti Hai
Apni Khabhi To Khabhi Ajanebi,
Aasoo.n Khabhi To Khabhi Hai Hasi,
Darr Ya Khabhi To Khabhi Tishnegi
Lageti Hai Ye To

Post a comment

0 Comments