KITNA PYAARA HAI SONG LYRICS - BIPASHA BASU, DINO MOREA

Kitna Pyaara Hai Yeh Chehra Jis Pe Hum Marte Hain
Kitna Pyaara Hai Yeh Chehra Jis Pe Hum Marte Hain

Yeh Na Jaane Ke Ise Kitna Pyaar Karte Hain
Kitna Pyaara Hai Yeh Chehra Jis Pe Hum Marte Hain
Kitna Pyaara

Darddo Hum Milke Sahenge Iraada Karle
Hum Na Tootenge Kabhi Aao Yeh Vaada Karle
Hum Bikhar Jaane Ke Khayal Se Bhi Darte Ha
i
Hum Bikhar Jaane Ke Khayal Se Bhi Darte Hai
Kitna Pyaara Hai Yeh Chehra Jis Pe Hum Marte Hain
Kitna Pyaara

Yeh Safar Pyaar Ka Hota Hai Bada Hi Mushkil
Gir Ke Jo Sambhle Usi Ko Mile Is Mein Manzil

Raah Kaisi Bhi Ho Hum Shok Se Guzarte Hain
Raah Kaisi Bhi Ho Hum Shok Se Guzarte Hain

Kitna Pyaara Hai Yeh Chehra Jis Pe Hum Marte Hain
Yeh Na Jaane Ke Ise Kitna Pyaar Karte Hain
कितना प्यारा है ये चेहरा
जिसपे हम मरते हैं
कितना प्यारा है ये चेहरा

जिसपे हम मरते हैं
ये ना जाने के इसे
कितना प्यार करते हैं
कितना प्यारा है ये चेहरा
जिसपे हम मरते हैं

कितना प्यारा है ये चेहरा
जिसपे हम मरते हैं
दर्द और गम मिलके सहेंगे
ये इरादा कर ले
हम ना टूटेंगे कभी

आओ ये वादा कर लें
हम बिखर जाने के
ख्याल से भी डरते हैं

हम बिखर जाने के
ख्याल से भी डरते हैं
कितना प्यारा है ये चेहरा
जिसपे हम मरते हैं

ये सफ़र प्यार का होता है
बड़ा ही मुश्किल
गिरके जो संभले
उसी को मिले इसमें मंज़िल

राह कैसी भी हो
हम शौक से गुजरते हैं
राह कैसी भी हो

हम शौक से गुजरते हैं
कितना प्यारा है ये चेहरा
जिसपे हम मरते हैं

ये ना जाने के इसे
कितना प्यार करते हैं

KITNA PYAARA HAI SONG STATUS

Do you like posting status, with a brilliant word which when people saw they actually get amazed? Of Course, everybody does.

Posting statuses is our daily routine on Social Media now but we got confused as to what kind of statuses we should post.

But, now you need not to get confused. In this article we will gonna tell you the KITNA PYAARA HAI Song Status which you guys can share on your Social media sites like Facebook, Instagram, Twitter, Whatsapp, Snapchat etc.
हम बिखर जाने के
ख्याल से भी डरते हैं
कितना प्यारा है ये चेहरा
जिसपे हम मरते हैं
ये सफ़र प्यार का होता है
बड़ा ही मुश्किल
गिरके जो संभले
उसी को मिले इसमें मंज़िल
राह कैसी भी हो
हम शौक से गुजरते हैं
राह कैसी भी हो

Post a comment

0 Comments