O YARON MAAF KARANA SONG LYRICS - AISHWARYA RAI BACHCHAN, AKSHAYE KHANNA

O yaaro maaf karna kuch kahne aaya hoon
Kuch apne bareme samjhane aaya hoon

O yaaro maaf karna kuch kahne aaya hoon
O yaaro maaf karna kuch kahne aaya hoon
Kuch apne bareme samjhane aya hoon
Main hoon pardeshi naujawan,
Dil mein rahne aaya hoon
Dil mein rahne aaya hoon
O yaaro maaf karna kuch kahne aaya hoon
O yaaro maaf karna kuch kahne aaya hoon

Oy..oy…oy…mere ehle vatan,
O tera kya kahna
Nasrino saman, o tera kya kahna
Khushboo e chaman tera kya kehna
Meri gango jaman tera kya kehna

Oy…oy…oy…ae desh se aanewale bata
Kaisa hai mera mehboob vatan
Kaisa hai mera mehboob vatan

Kya ab bhi vahan khaliyanome,
Sab neem ke niche sote hai
Kya ab bhi vahan bachpanwale,
Woh khel suhane hote hai

Kya ab bhi vahan rajarani ke,
Kisse dadi sunati hai
Kya ab bhi vahan per bachhon ko,
Maa lori ga ke sunati hai

Kya ab bhi vahan baisakhi mein,
Sab jhumke bhangda pande hai
Oy…oy…oy…kya ab bhi vahan barato mein,
Sab tashe dhol bajande hai
Oy…oy…oy…kya ab bhi vahan ke
Dhabo mein milti hai makke di roti
Oy…oy…oy…kya ab bhi vahan ke
Melo mein udti hai hasinoki choti

Tere desh ki mitti ki
Vohi khushboo laya hoon,
Vohi khushboo laya hoon
O yaaro maaf karna kuch kahne aaya hoon
Kuch apne bare me samjhane aaya hoon….

Ae mere vatan kurbaan
Tu meri aan…vai vai…tu meri shan…vai vai
Tu meri jaan…vai vai…tujhpe kurbaan…vai vai
Mera armaan…vai vai…meri pahchan…vai vai
Mera imaan…vai vai…tujhpe kurbaan…vai vai

Kya ab bhi muhobbat ki lahre
Uthti hai chanab ke pani se
Kya ab bhi suroor chalkta hai
Madmast hawa ki rawani se
Kya ab bhi vahan pe
Galib meer ki gazle gaayi jaati hai
Kya ab bhi vahan pe
Mastani mahfilen sajai jaati hai
Kya ab bhi vahan ki iado mein
Aati hai sevayiyoki khushboo
Kya ab bhi vahan tyoharo mein
Lagte hai woh mele harsoo
Kya ab bhi vahan per shadi mein
Dulhe ka sehra gaate hai
Kya ab bhi vahan khushhaali mein
Ghar ghar laddo bhijwate hai

Tu laga le gale mujhko
Main bhi tera hi sayaan hoon
Main bhi tera hi sayaan hoon
O yaaro maaf karna kuch kahne aaya hu
Kuch apne bare me samjhane aaya hoon
Main hoon pardeshi naujawan,
Dil mein rahne aaya hoon
Main hoon pardeshi naujawan,
Dil mein rahne aaya hoon
Main hoon pardeshi naujawan,
Dil mein rahne aaya hoon
Aa…aa…aa…aa…
Aa…aa…aa…aa…
ो यारो माफ़ करना कुछ कहने आया हूँ
कुछ अपने बारेमे समझाने आया हूँ

ो यारो माफ़ करना कुछ कहने आया हूँ
ो यारो माफ़ करना कुछ कहने आया हूँ
कुछ अपने बारेमे समझाने आया हूँ
मैं हूँ परदेशी नौजवान
दिल में रहने आया हूँ
दिल में रहने आया हूँ
ो यारो माफ़ करना कुछ कहने आया हूँ
ो यारो माफ़ करना कुछ कहने आया हूँ

ोय..ोय…ोय…मेरे ेहले वतन
ो तेरा क्या कहना
नसरीनो सामान
खुशबू े चमन तेरा क्या कहना
मेरी गंगो जमान तेरा क्या कहना

ोय…ोय…ोय…ऐ देश से आनेवाले बता
कैसा है मेरा महबूब वतन
कैसा है मेरा महबूब वतन

क्या अब भी वहां खलियानोमे
सब नीम के नीचे सोते है
क्या अब भी वहां बचपनवाले
वह खेल सुहाने होते है

क्या अब भी वहां राजरानी के
किस्से दादी सुनाती है
क्या अब भी वहां पर बच्चों को
माँ लोरी गा के सुनती है

क्या अब भी वहां बैसाखी में
सब झुम्के भंगड़ा पण्डे है
ोय…ोय…ोय…क्या अब भी वहां बरतो में
सब तषे ढोल बजनदे है
ोय…ोय…ोय…क्या अब भी वहां के
ढाबों में मिलती है मक्के दी रोटी
ोय…ोय…ोय…क्या अब भी वहां के
मेलो में उड़ती है हसीनोकी छोटी

तेरे देश की मिटटी की
वोही ख़ुशबू लाया हूँ
वोही ख़ुशबू लाया हूँ
ो यारो माफ़ करना कुछ कहने आया हूँ
कुछ अपने बारे में समझाने आया हूँ….

ऐ मेरे वतन कुर्बान
तू मेरी ाँ…वाई वाई…तू मेरी शान…वाई वाई
तू मेरी जान…वाई वाई…तुझपे कुर्बान…वाई वाई
मेरा अरमान…वाई वाई…मेरी पहचान…वाई वाई
मेरा ईमान…वाई वाई…तुझपे कुर्बान…वाई वाई

क्या अब भी मुहोब्बत की लहरे
उठती है चेनाब के पानी से
क्या अब भी सुरूर छलकता है
मदमस्त हवा की रवानी से
क्या अब भी वहां पे
ग़ालिब मीर की ग़ज़ल गाई जाती है
क्या अब भी वहां पे
मस्तानी महफ़िलें सजाई जाती है
क्या अब भी वहां की यादों में
आती है सेवाईयोकि खुशबू
क्या अब भी वहां त्योहारों में
लगते है वह मेले हरसू
क्या अब भी वहां पर शादी में
दूल्हे का सेहरा गाते है
क्या अब भी वहां खुशहाली में
घर घर लड्डो भिजवाते है

तू लगा ले गले मुझको
मैं भी तेरा ही सयान हूँ
मैं भी तेरा ही सयान हूँ
ो यारो माफ़ करना कुछ कहने आया हु
कुछ अपने बारे में समझाने आया हूँ
मैं हूँ परदेशी नौजवान
दिल में रहने आया हूँ
मैं हूँ परदेशी नौजवान
दिल में रहने आया हूँ
मैं हूँ परदेशी नौजवान
दिल में रहने आया हूँ
आ…आ…आ…आ…
आ…आ…आ…आ…

O YARON MAAF KARANA SONG STATUS

Do you like posting status, with a brilliant word which when people saw they actually get amazed? Of Course, everybody does.

Posting statuses is our daily routine on Social Media now but we got confused as to what kind of statuses we should post.

But, now you need not to get confused. In this article we will gonna tell you the O YARON MAAF KARANA SONG Status which you guys can share on your Social media sites like Facebook, Instagram, Twitter, Whatsapp, Snapchat etc.
Tere desh ki mitti ki
Vohi khushboo laya hoon,
Vohi khushboo laya hoon
O yaaro maaf karna kuch kahne aaya hoon
Kuch apne bare me samjhane aaya hoon….
ऐ मेरे वतन कुर्बान
तू मेरी ाँ…वाई वाई…तू मेरी शान…वाई वाई
तू मेरी जान…वाई वाई…तुझपे कुर्बान…वाई वाई
मेरा अरमान…वाई वाई…मेरी पहचान…वाई वाई
मेरा ईमान…वाई वाई…तुझपे कुर्बान…वाई वाई

Post a comment

0 Comments