ADHURI ZINDAGI SONG LYRICS - HIMESH RESHAMMIYA, FARAH KARIMAEE

dil akela hai bada, kyu rahu mai tanha
yeh ilteja hai tujhse meri
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
yeh ilteja hai tujhse meri

adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
dil akela hai bada ha, kyu rahu mai tanha
yeh ilteja hai tujhse meri

adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
yeh ilteja hai tujhse meri
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal

jab bhi kabhi falak pe nazar jo gayi
toh socha maine har pal yahi tu hai khudaya
musalsal yahi chale hai armaano me bhi
guftagu tune jo ki dil ko rulaaya

sajdo me jab bhi tera hi naam leke ye sar jhukaya
tere hi ashko me maine hai kyu apna hi aksh paaya
dil akela hai bada ha, kyu rahu mai tanha
yeh ilteja hai tujhse meri

adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
yeh ilteja hai tujhse meri
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal

aksar yaha mila hai sabko hi daga
magar mujhko hai mili teri panaahe
firta kaha mai dar-dar tanha yaha
jo rehti na yu mere sang teri duaaye

maazi ki yaade jalti hai saath mushkil tujhe bhulana
mujhko ye raate deti hai zakham, marham mujhe lagana
dil akela hai bada ha, kyu rahu mai tanha
yeh ilteja hai tujhse meri

adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
yeh ilteja hai tujhse meri
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
adhuri zindagi hai, tu karde mukammal
दिल अकेला हैं बड़ा, क्यूँ रहू मैं तनहा
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी

अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
दिल अकेला हैं बड़ा, क्यूँ रहू मैं तनहा
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी

अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल

जब भी कभी फलक पे नज़र जो गयी
तो सोचा मैंने हर पल यही तू है खुदाया
मुसलसल यही चले हैं अरमानो मे भी
गुफ्तगू तूने जो की दिल को रुलाया

सजदो में जब भी तेरा ही नाम लेके ये सर झुकाया
तेरे ही अश्को में मैंने हैं क्यूँ अपना ही अक्श पाया
दिल अकेला हैं बड़ा, क्यूँ रहू मैं तनहा
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल

अक्सर यहाँ मिला हैं सबको ही दगा
मगर मुझको हैं मिली तेरी पनाहे
फिरता कहा मैं दर-दर तनहा यहाँ
जो रेहती ना यु मेरे संग तेरी दुआए
माज़ी की यादे जलती हैं साथ मुश्किल तुझे भुलाना
मुझको ये राते देती हैं ज़खम, मरहम मुझे लगाना
दिल अकेला हैं बड़ा, क्यूँ रहू मैं तनहा

ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल

ADHURI ZINDAGI SONG STATUS

Do you like posting status, with a brilliant word which when people saw they actually get amazed? Of Course, everybody does.

Posting statuses is our daily routine on Social Media now but we got confused as to what kind of statuses we should post.

But, now you need not to get confused. In this article we will gonna tell you the ADHURI ZINDAGI Song Status which you guys can share on your Social media sites like Facebook, Instagram, Twitter, Whatsapp, Snapchat etc.
jab bhi kabhi falak pe nazar jo gayi
toh socha maine har pal yahi tu hai khudaya
musalsal yahi chale hai armaano me bhi
guftagu tune jo ki dil ko rulaaya
sajdo me jab bhi tera hi naam leke ye sar jhukaya
tere hi ashko me maine hai kyu apna hi aksh paaya
dil akela hai bada ha, kyu rahu mai tanha
yeh ilteja hai tujhse meri
जब भी कभी फलक पे नज़र जो गयी
तो सोचा मैंने हर पल यही तू है खुदाया
मुसलसल यही चले हैं अरमानो मे भी
गुफ्तगू तूने जो की दिल को रुलाया

Post a comment

0 Comments